मुझे नहीं पता प्यार क्या है

मुझे नहीं पता प्यार क्या है पर कभी-कभी कहीं-कहीं उस प्यार की झलक ज़रूर देखी है, वो दादी की कहानियों में, वो नानी के हाथ के बनाये आटे के लड्डुओं में, वो नाना की रोज़ दिलाई हुई टॉफ़ियों में, वो पापा के सर पर फिराए हाथ में, वो मम्मी की रोटियों में, वो मौसी की... Continue Reading →

As Flawed as Ever

Accept your flaws, they make you unique. If the flaws can be diminished, of course make it work, but never ever feel ashamed of them. Because acceptance gives way to Change. A positive change.

Just a photograph

It had been a long flight. Ashish should have been feeling sleep deprived and jet lagged instead he felt full of energy. He deboarded the plane, collected his baggage and left from the airport with a smile on his face. Next, he hired a taxi, looking at the number of bags he had - it... Continue Reading →

पहली बारिश

Photo by brazil topno from Pexels बहुत गरमी पड़ रही थी उस साल , जून का महीना था और मानसून के आने का सब को बेसब्री से इंतेज़ार था। दिल्ली जैसे शहर में किसी का काम रुकता नहीं है पर ये गरमी सबको बदहाल ज़रूर कर देती है। ज़रूरत थी तो एक अच्छी बौछार की... Continue Reading →

ज़िंदगी – मिलने बिछड़ने का सफ़र

ज़िंदगी के इस हसीन सफ़र में मिलना और बिछड़ना तो लगा ही रहेगा । बस इतना इत्मिनान रहे कि मिले तो ख़ुशी से और बिछड़े तो फिर मिलने की उम्मीद से। हर रिश्ता  उम्र भर का होगा तो नहीं, पर इतना तो गुमान रहे कि कोशिश पूरी थी।

Blog at WordPress.com.

Up ↑